Sunday, October 2, 2022
HomeBiographyमहात्मा गांधी निबंध HINDI 2020 || mahatma ghandi hindi

महात्मा गांधी निबंध HINDI 2020 || mahatma ghandi hindi

       
         

 महात्मा गांधी  निबंध HINDI 2020  

1.परिचय

महात्मा गांधी  का जन्म 2  (OCT) 1869 को हुआ इनका जन्म गुजरात के पोरबंदर नामक जगह पर हुआ | इनके पिता का नाम करमचंद गांधी था जो के राजकोट के दीवान थे | इनका स्कूल की पढाई इनके गांव में ही हुआ ये बचपन से ही बहुत ही ईमानदार थे और सदा सच बोला कभी झूठ नहीं बोला | इन्होने अपने एक बुक में खुद बताया के ये बचपन में बहुत झोपू थे यानि किसी से ज्यादा बात नहीं करते थे स्कूल ख़त्म होते ही ये घर आते थे | इनके घर पर इनको बहुत प्यार मिला और इनके पूरा नाम मोहन दास करमचाँद गांधी  था जो की बाद में ये महत्मा गांधी के नाम से जाने गये | 


                            

  2शिक्षा
इनके इनके गांव में ही हुआ और 1887 में उन्होंने इंट्रेस्ट की परीछा पास कर के आगे के पढाई के लिए इंग्लॅण्ड चले गये और 1891 में में वकालत पास कर के इंग्लॅण्ड से भरत लौ आये और मुंबई में वकालत शुरू किया पर वो जायदा दिन तक नहीं चला और वो सफल नहीं हो पाए


3.दक्षिणअफ्रिका 

महत्मा गांधी एक बार एक मुकदमे के काम से 

दक्षिणअफ्रिका गये वहाँ उन्होंने भारतीये के साथ हो रही अतयाचार को देखा जिससे उनको काफी ज्यादा दु:ख हुआ | उनको एक बार ट्रेन में सभी ने काला गोरा के नाम से उनको बुरी तरह पीटा |जिससे उनको काफी जायद ठेस लगी और उन्होंने वहां सत्याग्रह सुरु किया ताकि वहां के भारतीये के साथ अछा हो सके ये पहली  थी जो सत्याग्रह सफल भी हुई |

4.देश के लिए अहम भूमिका 

1914 में जब महत्मा गांधी भारत लौटे तो उन्होंने देश की जब गुलामी को देखा और अंग्रेजो के अत्याचार को देखा तो उनके आँखे खुली की खुली रह गयी | उसके बाद उन्होंने यह ठान लिया की वो देश की आजादी दिलाएगा और देस के लिए अपना सब कुछ कुर्बान कर देगा | पहले तो खुल कर इसका सामना नहीं किया पर 1917 से उन्होंने खुल के विरोध करने लगे | चम्पारण में उन्होंने भारत का पहला सत्याग्रह किया जिसमे वो किसान के नेता बने और वो देश के कोने कोने में गए और लोगो ने खुल के साथ दिया

1942 में महान क्रांति हुई जिसमे करो या मरो का नारा लगा जिमे सभी समुदाय के लोगो ने खुल के भाग लिया जिसमेबहुत सारे वीर ने अपना जान तक कुर्बान कर दिया महत्मा को बहुत बार जेल तक हुआ फिर भी क्रांति जारी रही लोगो ने बहुत साथ दिया | लास्ट में अंग्रेजो को लाचार होना प्र और 15 AUG 1947 आजादी मिला लेकिन वो जाते जाते हमारे देस को दो भागो में बाट दिया

1. भारत       2.पाकिस्तान

5.मृत्यु

देश की आजादी के बाद महत्मा गांधी के नाम से जाने गये |उसके 1 साल बाद ही उनको 30 jan1948नाथू राम गोडसे ने उनकी हत्या  कर दिया    लेकिन बापू आज भी याद किये जाते है और वो बापू के नाम से भी जाने गयेआज बापू की कहानी एक ऐसा कहानी बन के रह गयी जो मर के भी अमर है आज भी वो सभी भारतीय के दिल में बसते है

THANKS AAP SABHI KA DIL SE AISE HI HAMSE JURE RAHIYE AUR APNA PYAR BNAYE RAHIYE VIDEO DEKHNE KE LIYE YOUTUBE PAR OSMWAP SEARCH KIJIYE ….

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Unknown on